Breaking News

7 Health Benefits of Drinking Water in Hindi & Health Miracles of Water

7 Health Benefits of Drinking Water in Hindi &  Health Miracles of Water


पानी के 7 हेल्दी चमत्कार - Health Miracles of Water

जल ही जीवन है! यह कहावत तो आपने सुनी ही होगी। इसे सिर्फ एक कहावत की तरह न लें, बल्कि इसे अपने लाइफस्टाइल (Lifestyle) का हिस्सा बनाएँ। फिर देखें यह कैसे रखता है आपके शरीर को फिट और दिमाग को चुस्त। जानें पानी के 7 हेल्दी चमत्कार (Health wonders): आइए जानते है पानी पीने के 7 चमत्कारी स्वास्थ्य लाभ - 7 Health Benefits of Drinking Water in Hindi & Health Miracles of Water.

benefits of drinking water in hindi, health benefits of drinking water in hindi, health benefits of drinking water, benefits of drinking water, hot water benefits, warm water benefits, importance of drinking water, benefits of drinking water for skin, drinking water in the morning,  खूब पानी पीने के फायदे, पीने के पानी के स्वास्थ्य लाभ,
7 Health Benefits of Drinking Water in Hindi


पानी से बढ़ती है एनर्जी - Energy Increases with Water

अगर आप थके हुए महसूस कर रहे हैं और गला थकान से सूख रहा हो तो एक गिलास पानी पिएं और फिर देखें चमत्कार। शरीर मे पानी की कमी से आपको थकाम महसूस होती है। पर्याप्त मात्रा मे पानी पीने (Drink Water) से आपका हार्ट ज्यादा अच्छी तरह से ब्लड पंप करता है। पानी ब्लड के जरिये शरीर की सभी कोशिकाओं तक ऑक्सिजन और दूसरे न्यूट्रिएंट (Nutrient) पहुंचाने मे मदद करता है।


पानी से कम होता है स्ट्रेस - Stress is Reduced by Water

आपके ब्रेन के सेल्स (Brain Cells) का 70% से 80% हिस्सा पानी से बना होता है। अगर आपके शरीर मे पानी की कमी होती है तो आप आपका दिमाग भी स्ट्रेस्ड होता है। अगर आपको प्यास महसूस हो रही है तो इसका मतलब है कि आपका शरीर पहले ही थोड़ा डीहाइड्रेट हो चुका है। 

अपना स्ट्रेस लेवल (Stress Level) कम रखने के लिए हमेशा अपने डेस्क पर एक गिलास पानी जरूर रखें या ट्रैवल कर रहे हैं तो एक पानी की बोतल या सिपर साथ रखें।


पानी पिएं और स्लिम हो जाएँ -Drink Water and be Slim

वजन कम (Lose Weight) करने की कोशिश मे हैं? तो पानी आपका मेटाबॉलिज्म (Metabolism) ठीक करता है और आपको पेट भरा होने का एहसास कराता है। अगर आपको स्वीटेंड पेय (Beverages) पीने की आदत है तो इसे पानी से रिप्लेस कर दें। खाना खाने से पहले एक गिलास पानी पिएं, इससे आपको कम खाने मे पेट भरने का एहसास होता है। 

ज्यादा पानी पीने से आपका मेटाबॉलिज्म (Metabolism) अच्छा होता है खासतौर से तब जब आपका गिलास ठंडे पानी से भरा हो। आपका शरीर पानी को गर्म (Warm Water) करना चाहिए इससे आपके शरीर मे एक्सट्रा कैलोरी बर्न होती है।


पानी से बनाएँ मसल टोन - Create a Muscular Tone with Water

पानी पीने (Drink Water) से आपके मसल मे तनाव कम होता है और शरीर के जोडों को चिकनाहट रहती है। अगर आपके शरीर मे पर्याप्त नमी होगी तो आप लंबे समय तक बिना थके एक्सरसाइज कर सकते हैं।


स्किन को दें न्यूट्रीएंट - Give Skin a Nutrient

अगर आपका डीहाइड्रेटेड होंगे तो आपकी स्किन की लाइन और झुर्रियां और गहरी दिखने लगती हैं। पानी नेचर का दिया हुआ अपना ब्यूटी क्रीम है। तो अबसे खूब पानी पिएं और स्किन की चमक बढ़ाएँ, और हमेशा यंग दिखें। इससे स्किन से गंदगी भी बाहर आ जाती है, ब्लड फ्लो बढ़ता है और आपके चेहरे मे चमक बनी रहती है।


डाइजेशन सिस्टम रहेगा रेग्युलर - Digestion System will Regular

फाइबर (Fiber) के साथ, पानी आपका पाचन (Digestion) ठीक रखता है। पानी पेट मे कचरे को डिजाल्व करता है और डाइजेस्टिव ट्रैक के जरिये इसे आराम से बाहर निकालने मे मदद करता है। अगर आप डीहाइड्रेटेड होंगे तो आपका शरीर सारा पानी सोख लेगा और आपका मलाशय (Colon) सूखा रहेगा, ऐसे मे शौच मे तकलीफ होगी।


पानी घटाता है किडनी स्टोन का खतरा - Water Reduces the Risk of Kidney Stone

दर्द वाले किडनी स्टोन (Kidney Stone) कि समस्या आजकल तेजी से बढ़ रही है। जिसका एक कारण, खासतौर से बच्चों मे-पानी कम पीने की आदत भी है। नमक और मिनरल्स मिलकर सॉलिड क्रिस्टल बनाते हैं, जिसे किडनी स्टोन कहा जाता है। पानी नाकाम और मिनरल्स (Minerals) को यूरीन मे डाइल्यूट कर देता है। डाइल्यूटेड यूरीन मे किडनी स्टोन नहीं बन सकता है। ऐसे मे किडनी स्टोन (Kidney Stone) का खतरा कम करने के लिए खूब सारा पानी पिएं।


क्या आप पी रहे हैं पर्याप्त पानी? - Are you Drinking Enough Water?

हर किसी के लिए पानी की जरूरतें अलग-अलग होती हैं। इसकी डोज़ फिजिकल एक्टिविटीज़ (Physical Activity), आस-पास के तापमान और उनके हेल्थ स्टेटस (बुखार, डायरिया, ब्लीडिंग), साइकलॉजिकल स्थिति (प्रेग्नेंसी, लैक्टेशन यानि दूध पिलाने), उम्र, जेंडर और कई अन्य बातों पर निर्भर करती है।

• एक सिडेंटरी एडल्ट यानी ज़्यादातर समय बैठा रहने वाला व्यक्ति, अगर 18 से 20 डिग्री सेल्शियस तापमान मे रहता है और उसकी साइकलॉजिकल स्थिति सामान्य है, तो उसके शरीर मे एक दिन मे औसतन 2.5 लीटर पानी की खपत होती है।

• 1.5 लीटर की खपत किडनी करता है, यूरीन के जरिये।

• सांस लेने के दौरान फेफड़े 0.35 लीटर की खपत करते हैं।

• पसीने के जरिये स्किन 0.45 लीटर की खपत करती है।

• शौच के जरिये 0.2 लीटर की खपत आँतें यानी इंटेस्टाइन करती हैं।

• डीहाइड्रेशन से बचने के लिए हमे उतना पानी पीना होता है, जितना हम खर्च करते हैं।


पानी लेने के 3 मुख्य सोर्स हैं:

• खाने मे 0.7 लीटर

• मेटाबोलिक वाटर, जो शरीर मे बायोकेमिकल रिएक्शन से बनता है-0.3 लीटर

• पानी पीकर-1.5 लीटर

No comments